jawahar navodya vidyalaya entrance processs

Jawahar Navodaya Vidyalaya

नामांकन

जवाहर नवोदय विद्यालयों में दाखिले के लिए केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर प्रतियोगिता परीक्षा आयोजित की जाती है, जिसमें उत्तीर्ण बच्चों का दाखिला VI क्लास से होता है. एक क्षेत्र स्तरीय परीक्षा या पूर्व के उत्तीर्ण हुए परीक्षाओं के अंकों के आधार पर बच्चों को क्लास IX और क्लास XI के रिक्त स्थानों को भरने के लिए भी दाखिला कि व्यवस्था है. नवोदय विद्यालयों में शिक्षा की व्यवस्था बिलकुल मुफ्त है. नवोदय विद्यालय में कुल ७५% सीट ग्रामीण बच्चों के लिए ३३% सीट लड़कियों के लिए आरक्षित होती है. जो बच्चे SC/ST में आते हैं, उनको क्रमशः १५% तथा ७.५% आरक्षण मिलता है. जवाहर नवोदय विद्यालय की स्थापना देश के हर जिले में की गई है ताकि हर बच्चे को शिक्षित किया जा सके.
प्रवेश परीक्षा का माध्यम २१ भारतीय भाषाओँ में होता है जिसमे ज्यादातर प्रश्न Non-verbal तथा Objective पर आधारित होते हैं. प्रवेश परीक्षा को इस प्रकार से तैयार किया गया है की जो प्रतिभाशाली बच्चे ग्रामीण क्षेत्र से हैं उनको इस परीक्षा के तैयारी के लिए ज्यादा परेशानी ना झेलना पड़े. जो बच्चे ९ से १३ वर्ष के बीच तथा जिले के किसी भी मान्यता प्राप्त विद्यालय से कक्षा पांच की पढाई कर रहा हो या पांचवी की परीक्षा पास किया हो, वो बच्चे JNVST के कक्षा VI के प्रवेश परीक्षा के लिए योग्य है.
योजना के अनुसार, किसी नवोदय विद्यालय में प्रति वर्ष कक्षा VI में अधिकतम ८० छात्र का ही नामांकन हो सकता है. क्योंकि, नवोदय विद्यालय एक आवासीय विद्यालय है इसलिए कमरे (जहाँ बच्चों के रहने की व्यवस्था होती है) की कमी के कारण कुछ विद्यालयों में अधिकतम नामांकित छात्र की संख्या ४० होती है.

Year          Registered    Appeared     Selected
1999          5,20,392        4,63,150       26,850
2000          5,83,243        5,33,333       27,813
2001          6,37,768        5,88,158       30,036
2002          7,19,178        6,68,297       30,066
2003          8,44,364        7,74,438       31,883
2004          9,36,423        8,76,405       31,664
2005          9,85,875        8,22,331       32,773
2006          11,66,676      10,42,460     35,605
2007          13,87,421      12,35,288     36,364


प्रवेश के लिए प्रक्रिया

जवाहर नवोदय विद्यालय में नामांकन केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा डिज़ाइन तथा आयोजित चयन परीक्षा में आवेदन कर किया जा सकता है. यह परीक्षा, जिसे जवाहर नवोदय विद्यालय चयन परीक्षा (JNVST) कहा जाता है Non-verbal प्रकृति का होता है. सभी वर्गों को समानता दी गयी है और इस चयन परीक्षा को इस प्रकार से डिजाईन किया गया है कि किसी भी प्रतिभाशाली छात्र को चाहे वो ग्रामीण क्षेत्रों से ही क्यों ना हो, को प्रतिस्पर्धा की तैयारी में किसी भी प्रकार की कठिनाइयों का सामना ना करना पड़े. क्योंकि ग्रामीण क्षेत्रों में अच्छी संचार सुविधाओं तथा संसाधनों की कमी है, इसलिए दूर दराज़ के ग्रामीण क्षेत्रों के लिए विशेष ध्यान रखा गया है की वहां के छात्रों को एड्मिसन फॉर्म बिना किसी कठिनाई के निःशुल्क प्राप्त हो सके. इस चयन प्रक्रिया के लिए प्रयाप्त प्रचार दूरदर्शन, आकाशवाणी, स्थानीय समाचार पत्र, पर्चे, जिले के स्थानीय स्कूलों में नवोदय विद्यालयों के प्रधानाध्यापकों और शिक्षकों के विजिट माध्यम से किया जाता है, नतीजतन ग्रामीण क्षेत्रों के छात्रों को नवोदय विद्यालयों के योजनाओं के बारे में आसानी से पता चल जाता है.
क्या योग्यता होनी चाहिए
चयन परीक्षा के आवेदन के लिए उम्मीदवारों को निम्नलिखित योग्यता शर्तों को पूरा करना होता है: 
चयन परीक्षा में आवेदन के लिए उम्मीदवार को, उस जिले जहां चयन परीक्षा आयोजित किया जाता है, जिसके लिए छात्र / छात्रा अभी से ठीक पहले शैक्षणिक सत्र में प्रवेश पाने के इच्छुक है, उस जिले के “सर्व शिक्षा अभियान” या राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान के ‘बी’ प्रमाण पत्र योग्यता कोर्स की योजनाओं के अंतर्गत एक सरकारी / सरकार द्वारा सहायता प्राप्त या अन्य मान्यता प्राप्त स्कूल या स्कूलों में पांचवीं कक्षा में पढाई किया जाना चाहिए, चालू सत्र के छठी कक्षा में वास्तविक प्रवेश, तथापि प्रवेश से पहले पांचवीं कक्षा के पास होने की शर्त के अधीन है. 
प्रवेश पाने के इच्छुक अभ्यर्थी को, जिस वर्ष चयन परीक्षा आयोजित किया जा रहा है, उस वर्ष के १ मई को अभ्यर्थी ९ से १३ वर्ष के आयु वर्ग के बीच होना चाहिए. यह नियम अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति सहित सभी श्रेणियों के उम्मीदवारों की लिए लागू होता है. 
ग्रामीण कोटे में प्रवेश के आवेदन का दावा करने वाले उम्मीदवारों को सरकारी / सरकार द्वारा सहायता प्राप्त / ग्रामीण क्षेत्र में स्थित किसी मान्यता प्राप्त स्कूल से एक पूर्ण शैक्षणिक सत्र में नियमित रूप से वर्ग तृतीय, चतुर्थ और पाँचवी कक्षा का अध्ययन और उत्तीर्ण किया जाना चाहिए. अगर उम्मीदवार किसी भी वर्ग के किसी भी शैक्षणिक सत्र को रिपीट, गैप, या ब्रेक करके उत्तीर्ण किया है तो वो इस चयन परीक्षा में आवेदन करने योग्य नहीं होगा. 
वैसे उम्मीदवार जोकि, जिस वर्ष चयन परीक्षा आयोजित की जा रही हो उसके पूर्ववर्ती शैक्षणिक सत्र के नवम्बर महीने तक में भी कक्षा पांच में प्रमोट नहीं किया गया हो, चयन परीक्षा में आवेदन करने योग्य नहीं है. 
किसी भी उम्मीदवार को किसी भी परिस्थिति में दूसरी बार के लिए चयन परीक्षा में आवेदन करने की अनुमति नहीं है. 
चयन परीक्षा पास करने वाले बच्चों के अभिभावकों को प्रवेश के समय निम्नलिखित प्रस्तुत करना होगा:

जिस विद्यालय में आवेदन किया गया है उसके द्वारा मांग किये गए दस्तावेजों के अलावा शपथ पत्र / निर्धारित प्रोफार्मा में निवास प्रमाण पत्र को संबंधित विद्यालय में प्रस्तुत करना होगा. 
जो उम्मीदवार ग्रामीण कोटे से आवेदन करना चाह रहे हैं, उनके माता-पिता को शपथ-पत्र प्रस्तुत करना होगा जो ये शाबित करेगा की जिस स्कूल में बच्चा पढाई कर रहा है वो स्कूल अधिसूचित ग्रामीण क्षेत्र में आता है और उम्मीदवार के माता-पिता भी अधिसूचित ग्रामीण क्षेत्र में रहते हैं. 

*उपरोक्त नियम सभी जाति तथा लिंगों के लिए सामान हैं.
Content Protection by DMCA.com
%d bloggers like this: