रेलवे बजट 2016 मुख्यांश । Railway Budget Highlights

मित्रों हम आपके समक्ष रेलवे बजट 2016 के मुख्यांश प्रस्तुत कर रहे हैं।

हमारे रेल मिनिस्टर श्री सुरेश प्रभु जी ने 25 February 2016 को रेलवे बजट पेश किया। इस बार का बजट आम आदमी के दिकत्तों को समझ कर पेश किया गया और बिना रेल किराया बढ़ाये हुए एक अच्छी और सुविधाओं से परिपूर्ण बजट हमारे लिए लाया गया है।
रेल बजट के मुख्यांश इस प्रकार है:

रेल बजट 2016 एक नज़र में :

– बजट में रेल किराया नहीं बढ़ाया गया है।

– चार प्रकार के नई ट्रेनों – तेजस, हमसफर, अंत्योदय, उदय का एलान।

– तेजस 130 किमी/घंटा की रफ़्तार से चलेगी।

– हमसफर पूरी तरह से थर्डएसी (3AC) होगी।

– अंत्योदय एक्सप्रेस में कोई भी रिजर्वेशन बोगी नहीं होगा, सिर्फ जनरल बोगियां होंगी। ये लंबी दूरी की ट्रेन होगी।

– उदय डबल डेकर ट्रेन होगी, जिसे बिजी रूट पर रात में चलाया जाएगा।

– दीनदयाल एक्सप्रेस योजना के तहत कई लम्बी दूरी की ट्रेनों में नए कोच लगाए जाएंगे।

– 2020 तक यात्री जब चाहे तब उसे टिकट मिलेगा।

– 2020 तक 95% ट्रेनें राइट टाइम पर चलाने का टारगेट।

– पैसेंजर ट्रेन की औसत स्पीड 80 किमी करने का लक्ष्य।

– माल गाड़ी की औसत रफ्तार 50 किमी. प्रति घंटे रहेगी।

– अनारक्षित टिकट के लि‍ए आएगा मोबाइल ऐप।

– रेलवे टि‍कट के लि‍ए लॉन्‍च करेगा स्‍मार्ट कार्ड।

– महिलाओं के लिए 24 घंटे का हेल्पलाइन (182)

– पीओएस मशीन से भी मि‍लेगा टि‍कट, टि‍कट में होगा बारकोड ।

– सीनियर सिटिजन का कोटा 50 फीसदी तक बढ़ाया गया है। हर ट्रेन में 120 लोवर बर्थ सीट रि‍जर्व रखी जाएंगी।

– रेलवे और गवर्नमेंट के बीच सहयोग बढ़ाने के लिए एक प्रोजेक्ट शुरू किया जाएगा।

– इंजीनियरिंग स्टूडेंट के लिए इंटर्नशिप के इंतजाम किए जाएंगे।

– मनोरंजन के लिए रेलगाड़ियों में एफएम रेडियो का प्रसारण शुरू होगा।

– पहला बायो वैक्यूम टॉयलेट डिब्रूगड़ राजधानी एक्सप्रेस में लगेगा।

– मेक इन इंडिया के तहत 4 हजार करोड़ रुपए रेलवे के विकास के लिए लगाए जाएंगे।

– 65 हजार एडिशनल बर्थ ट्रेनों में लगेंगे।

– जनरल डिब्बे में मोबाइल चार्जिगं प्वाइंट लगेंगे।

– 17 हजार बायो टॉयलेट इस साल के अंत तक ट्रेनों में लगेंगे।

– 2500 ऑटोमैटिक वाटर वेंडिंग मशीन लगेंगी।

– दो साल में 400 स्टेशनों को वाईफाई सुविधा-युक्त किया जाएगा।

– 400 स्टेशनों को निजी भागीदारी से डेवलप किया जाएगा।

– यात्रियों की शिकायत के लिए नई फोन लाइन शुरू होगी।

– 311 स्टेशनों पर सीसीटीवी सिक्युरिटी दी जाएगी।

– मेक इंडिया के तहत 2 रेल इंजन कारखाने बनेंगे।

– बडोदरा में रेलवे यूनिवर्सिटी बनेगी।

– व्हीलचेयर की ऑनलाइन सुविधा दी जाएगी।

– अगले तीन महीनों में फॉरेन कार्ड्स पर भी ई रिजर्वेशन किया जा सकेगा।

– 139 हेल्पलाइन से ही टिकट कैंसिल कराए जा सकेंगे।

– हर तत्काल टिकट के लिए थर्ड पार्टी एग्रीमेंट किया जाएगा। जो तत्काल के समय साइट हैक ना की जा सके।

– तत्काल काउंटर पर सीसीटीवी कैमरे, रि‍जर्वेशन काउंटर सीसीटीवी की नि‍गरानी में होंगे।

– ट्रेनों में सफाई के लिए क्लीन माई कोच फैसेलिटी शुरू की जाएगी।

– दिव्यांगों और बुजुर्गों के लिए सारथी सेवा शुरू की जाएगी।

– 408 स्टेशनों पर ई कैटरिंग की सेवा शुरू होगी।

– आईआरसीटीसी खानपान सेवा में सुधार करेगी।

– बेबीफूड, हॉट वाटर की सुविधा स्टेशनों पर दी जाएगी।

– हर कैटेगरी में 33% सीटें महिलाओं के लिए रिजर्व होंगी।

– टिकट पर ऑप्शनल इन्सोरेंस फैसेलिटी मिलेगी।

– अजमेर, अमृतसर, गया, सारनाथ, वाराणसी जैसे तीर्थ स्थलों के स्टेशनों का रिनोवेशन किया जाएगा।

– रिटायरिंग रूम की ऑनलाइन बुकिंग शुरू की गई है।

– रेस्ट रूम में हर घंटे के हिसाब से बुकिंग होगी।

– अहमदाबाद-मुंबई के बीच जापान की मदद से हाई स्पीड कॉरीडोर।

– कोलकाता में एक्सप्रेस कॉरीडोर बनाया जाएगा।

– मुंबई में मेट्रो स्टेशन रेलवे स्टेशनों और एयरपोर्ट्स से जोड़े जाएंगे।

– आस्था सर्किट योजना- तीर्थ स्थानों को जोड़ने के लिए।

– दिल्ली के रिंग रोड की तर्ज पर रिंग रेलवे शुरू होगी, इसमें 21 स्टेशन होंगे।

– 2020 तक एक भी मानवरहित रेलवे फाटक नहीं होगा।

– 2 हजार स्टेशनों पर रेल डिस्प्ले नेटवर्क होगा।

– स्मार्ट सवारी डिब्बे को बनाने की योजना। न्यू स्मार्ट कोच कस्टमर की जरूरत के मुताबिक होंगी।

– 44 प्रोजेक्ट पर काम होगा। 5300 किलोमीटर नई लाइन तैयार की जाएगी।

– 6 राज्यों के साथ एमओयू साइन किए गए हैं। रेलवे इनके साथ ज्वॉइंट वेंचर लगाएगी।

– रेलवे में सभी पदों के ऑनलाइन भर्ती प्रक्रिया होगी।

– नॉर्थ ईस्ट पर हमारा फोकस है। अगरतला को ब्रॉड गेज से जोड़ा जाएगा।

– पीपीपी मॉडल में लॉजिस्टिक्स पार्क और वेयर-हाउस बनाया जाएगा।

– सोशल मीडिया को डे-टू-डे वर्किंग में यूज करके ट्रांसपेरेंसी लाई जाएगी।

– इस साल 8720 करोड़ रुपए की बचत हुई।

– पिछले साल के मुकाबले 10% ज्यादा इनकम का लक्ष्य।

– अगले साल 184450 करोड़ जुटाने का अनुमान।

मोदी सरकार के रेलमंत्री श्री सुरेश प्रभु ने लोकसभा में 2016-17 का रेलबजट पेश किया।

धन्यवाद

Content Protection by DMCA.com
%d bloggers like this: